अब लॉकडाउन में घर पर सुरक्षित रहते हुए प्राप्त करें सारी आवश्यक वस्तुएं

वर्तमान समय में कोरोना वायरस पूरे विश्व के लिए बड़ा संकट बन चुका है। इससे बचने के लिए दुनिया के कई देशों ने लॉकडाउन की घोषणा की है। भारत में भी 14 अप्रैल तक 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की गई है। पूरे देश में लोग इस लॉकडाउन का उत्साहपूर्वक पालन कर रहे हैं जो कि इस वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने का एकमात्र उपाय है। हालांकि लॉकडाउन का पालन करना शुरूआती कुछ दिनों में आसान व एक अलग प्रकार का अनुभव प्रदान करने वाला होता है लेकिन आवश्यक चीजों की आपूर्ति न होने पर यह एक बड़ी समस्या का रूप भी ले सकता है।

आवश्यक चीजें जैसे दूध, घर का राशन, दवाएं, इंटरनेट, सफाई की चीजें आदि न होने की कल्पना मात्र ही हमें परेशान करने लगती है। हालांकि आवश्यक वस्तु अधिनियम 1955 के तहत सरकार सारी आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति करा रही है, लेकिन कई ऐसी चीजें भी हैं जो कि वर्तमान समय में आवश्यक तो हैं लेकिन आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत नहीं आती, जैसे कि इंटरनेट। इंटरनेट को वर्तमान समय की मूलभूत आवश्यकता कहना अतिशयोक्ति नहीं होगी। लॉकडाउन के समय को इंटरनेट ने काफी आसान बना दिया है। जहां आप इंटरनेट के द्वारा अपनी सारी आवश्यकताओं की पूर्ति तो कर ही सकते हैं साथ ही आप इस समस्या के समय घर बैठे सहायता भी प्राप्त कर सकते हैं । तो आइये हम आपको बताते हैं की कैसे आप इन जरूरतों की आपूर्ति कर सकते हैं।

दवाएं व चिकित्सा सुविधा
कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए चिकित्सा सुविधा के इंतजाम काफी पुख्ता किए गए हैं । लॉकडाउन में आवश्यक दवाओं की घर पर आपूर्ति की व्यवस्था की गई है, लेकिन कुछ दवाएं शायद लोकल स्टोर्स पर उपलब्ध नहीं रहती हैं जिसके लिए मेडलाइफ और फार्मइजी आदि प्लेटफार्म हैं जो कि इस मुश्किल परिस्थिति में आपकी सहायता के लिए तत्पर हैं। साथ ही आप कोरोना हेल्पलाइन 011-23978046 पर भी कॉल करके चिकित्सीय सहायता प्राप्त कर सकते हैं। साथ ही हर जिले में चिकित्सा आपात व आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति हेतु हेल्पलाइन नम्बर भी हैं, जिनकी सहायता से आप बिना घर से निकले हुए अपनी सारी आवश्यकताओं की पूर्ति कर सकते हैं । याद रखें घर पर सुरक्षित रहकर ही कोरोना वायरस को हराया जा सकता है।

दैनिक उपयोग की चीजें
हमारे दैनिक उपयोग की कुछ चीजें ऐसी होती हैं जिन्हें काफी समय तक सुरक्षित रखा जा सकता है, लेकिन कुछ चीजें ऐसी होती हैं जिन्हें लम्बे समय के लिए सुरक्षित नहीं रखा जा सकता जैसे दूध, फल, सब्जियां आदि। इन वस्तुओं की आवश्यकता हमें रोज होती है। लॉकडाउन पीरियड में जब आप घर से बाहर नहीं निकल सकते ऐसे में इन वस्तुओं की आपूर्ति एक बड़ी चुनौती बन जाती है, हालांकि दिल्ली मुंबई जैसे बड़े शहरों में डोर स्टेप डिलीवरी की सुविधा आसानी से उपलब्ध है तो वहीं छोटे शहरों में सरकार हर घर तक इन सारी चीजों की आपूर्ति का काम बखूबी कर रही है। इसके अलावा ढेरों ऐसे प्लेटफार्म हैं जहां से आप अपनी आवश्यकता की सारी चीजें ऑनलाइन ऑर्डर कर सकते हैं जैसे कि ग्रोफर्स, मिल्कबास्केट, बिग बास्केट आदि।

मोबाइल व डीटीएच रिचार्ज
लॉकडाउन के बाद से इंटरनेट की खपत देश में तेजी से बढ़ी है। इंटरनेट वर्तमान समय में एक मूलभूत आवश्यकता बन चुका है । खाली समय में नेटफ्लिक्स हो या सोशल मीडिया, परिवार या दोस्तों से वीडियो कॉल हो या अपनी मनपसंद सीरीज, सबके लिए इंटरनेट की आवश्यकता पड़ती है। ऐसे में मोबाइल रिचार्ज व डीटीएच रिचार्ज के लिए बाहर जाना एक बड़ी समस्या बन चुका है। आवश्यक वस्तु अधिनियम 1955 के तहत इंटरनेट व डीटीएच आवश्यक वस्तुओं की श्रेणी में नहीं आते, जिसकी वजह से मोबाइल रिचार्ज की दुकानें भी बंद हैं।

आपकी इसी समस्या का समाधान लेकर आया है एयरटेल। एयरटेल थैंक्स ऐप के जरिए आप घर पर सुरक्षित रहते हुए मोबाइल रिचार्ज कर सकते हैं। सिर्फ यही नहीं आप डीटीएच, इंटरनेट व और एयरटेल सर्विस का भी आसानी से लाभ उठा सकते हैं। यदि आपने इस ऐप का प्रयोग पहले नहीं किया है अथवा आपको इस ऐप का प्रयोग करने में कोई दिक्कत आ रही है तो आप इस वीडियो की सहायता से आसानी से इस ऐप को इस्तेमाल करना सीख सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *